अपेंडिक्स का उपचार घरेलू तरीके और देसी नुस्खे से कैसे करे

Appendix ka upchar ke gharelu nuskhe in Hindi : अपेंडिसाइटिस, शरीर में अपेंडिक्स नामक एक अंदरूनी अंग में होता है अपेंडिक्स एक पतली और छोटी सी ट्यूब होती है जिसकी लंबाई लगभग 2 से 3 इंच तक होती है बड़ी आंत में जहां मल बनता है वहां पर ये आंत से जुड़ी होती है| अपेंडिक्स पेट के दाई तरफ नीचे के हिस्से में होती है| अगर इसमें इन्फेक्शन हो जाए तो सूजन आ जाती है जिसे हल्का दबाने पर भी  दर्द होने लगता है जैसे जैसे सूजन बढ़ाने लगती है वैसे वैसे यह दर्द बढ़ने लगता है|

लेकिन आखरी में इसका इलाज ऑपरेशन पर आकार खत्म हो जाता है और इसे पेट से बाहर निकालना पड़ता है लेकिन अगर शुरुआत में ही इसके लक्षणों को पहचान कर समय के रहते ही उपाय कर लिए जाये तो इससे राहत पाई जा सकती है| अपेंडिक्स का उचार के लिए देसी नुस्खे बहुत फायदेमंद होते है| अगर आप की परेशानी कुछ ज्यादा ही बढ़ गई है तो फिर इसका ऑपरेशन ही इसका इलाज है| आइये जानते है home remedies tips for appendix pain treatment in hindi. 

अपेंडिक्स के लक्षण क्या है : Appendix Symptoms

  • पेशाब करने में परेशानी होना
  • गैस बनना
  • जी मचलना या उल्टी आना
  • पेट में सूजन
  • भूख न लगना
  • बुखार आना
  • पेट में नाभि के आसपास दर्द महसूस होना

यह सब परेशानी होना अपेंसिक्स के लक्षणों में से है|

अपेंडिक्स होने के कारण : Appendix Pain Causes

  • अपेंडिक्स में गाँठ या कैंसर की बीमारी होना
  • कब्ज रहना
  • भोजन में फाइबर की मात्रा का कम होना
  • आंतों में भोजन के कण का जाना
  • फलों के बीजों का अपेंडिक्स में फसना
ज़रूर पढ़ें -   अजीनोमोटो एक मीठा जहर जाने इसके नुकसान - Ajinomoto (MSG) side effects in hindi

अपेंडिक्स में इन्फेक्शन के कारण

अपेंडिक्स का आकार ऐसा होता है की इसका एक तरफ का हिस्सा खुला होता है और दूसरा हिस्सा बंद होता है अक्सर कई बार खाना खाते वख्त खाने के कुछ कण अपेंडिक्स में चले जाते है जिसकी वजह से पेट में इन्फेक्शन हो जाता है और अपेंडिक्स में सूजन आ जाती है|

पेट के कीड़े और पुराना कब्ज अपेंडिक्स को और नुकसान पहुंचाते है ये अपेंडिक्स की कार्य प्रणाली को प्रभावित करते है और इसकी वजह से समस्या और भी बढ़ सकती है और अपेंडिक्स फट भी सकती है|

अपेंडिक्स का उपचार के घरेलू उपय और देसी नुस्खे

Appendix Ka Upchar Ke Gharelu Upay aur Desi Nuskhe

  1. अपेंडिक्स का इलाज घरेलू तरीके से करने के लिए छाछ बहुत कारगर है 1 गिलास छाछ में थोड़ा सा काला नमक मिलाकर सेवन करने से अपेंडिक्स में आराम मिलता है|
  2. पेट की समस्या को दूर करने के लिए पुदीना एक अच्छा उपाय है, चक्कर और पेट में गैस आदि में पुदीना बहुत लाभदायक है पुदीने की चाय सेवन करने से अपेंडिक्स के दर्द में राहत मिलती है|
  3. अदरक बड़े काम की चीज है दर्द और सूजन को दूर करने में अदरक उपयोगी है रोजाना अदरक की चाय दो से तीन बार सेवन करें दूसरा तरीका है कि अपने पेडु को अदरक के तेल से दिन में कई बार मसाज करें|
  4. तुलसी का सेवन अपेंडिक्स में रामबाण इलाज है, अपेंडिक्स के अन्य लक्षणों को दूर करने के लिए आप रोजाना तुलसी की 3 से 4 पट्टियों को चबा सकते है|
  5. कच्चा दूध पीने से परहेज करें| उबले हुए दूध को ठंडा करके पीने से लाभ होता है|
  6. भोजन करने से पहले थोड़ा सेंधा नमक और टमाटर, अदरक पर लगाकर सेवन करें|
  7. कब्ज दूर करने और पाचन शक्ति ठीक रखने के लिए एलोवेरा का इस्तेमाल अच्छा उपाय है|
  8. आंतों की बीमारियों के इलाज के लिए पालक का साग बहुत फायदेमंद है|
  9. ज्यादा ताली हुई और चटपटी चीजों का सेवन करने से बचे, पानी ज्यादा से ज्यादा पिए और तरल पेय आदि इस्तेमाल करें|
  10. सुबह खाली पेट रोजाना 2 से 3 दिन लहसुन की कलियाँ सेवन करने से राहत मिलती है|
ज़रूर पढ़ें -   पेट कम करने के लिए 10 आसान एक्सरसाइज और उपाय इन हिंदी

अपेंडिक्स का इलाज के आयुर्वेदिक नुस्खे

  1. गुड के साथ आधा ग्राम गूगल लेने से फायदा होता है| अगर आप कोई भी आयुर्वेदिक मेडिसिन या दवा लेना चाहते है तो बाबा रामदेव पतंजलि स्टोर या किसी पंसारी की दुकान से ले सकते है|
  2. दर्द से राहत पाने के लिए दर्द वाली जगह पर राई पीस कर मले| इस लेप को एक घंटे से ज्यादा ना लगा रहने दे इस लेप से छाले हो सकते है|
  3. 1 गिलास पानी में दो चम्मच मेथी के दाने डालकर उबला लें और इसे दिनभर में एक बार सेवन करे, हो सके तो खाने में भी मेथी के दाने का प्रयोग करे| इस घरेलू नुस्खे से अपेंडिक्स की सूजन कम होती है और दर्द भी दूर होता है|
  4. इमली के छोटे-छोटे बीजों को पीस कर एक पेस्ट बना कर त्यार कर लें फिर इसे पेट पर मले| इस उपाय से सूजन कम होती है और अगर आपका पेट फूलता है तो उससे भी राहत मिलती है|
  5. शरीर की इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए विटामिन सी बहुत फायदेमंद है इसके लिए आप थोड़ा सा शहद लें और इसमें 1 नींबू निचोड़ कर पिए|

अपेंडिक्स के रोग से बचने के तरीके

अगर आप इस रोग से बचना चाहते है तो आप अपनी डाइट में पोषक तत्वों से भरपूर चीजें सेवन करे और अपने भोजन में फाइबर्स युक्त चीजें शामिल करें, इससे पेट में जमी गंदगी पेट से बाहर निकल जाएगी और पेट में कब्ज नहीं बनेगा| इसके साथ ही साथ भोजन समय पर करे, पानी ज्यादा से ज्यादा पिए और शरीर में चर्बी बढ़ाने वाली चीजें खाने से बचे|

ज़रूर पढ़ें -   गर्दन में दर्द का इलाज के 10 आसान घरेलू उपाय और देसी नुस्खे

हेल्लों दोस्तों अपेंडिक्स का उपचार घरेलू तरीके और देसी नुस्खे से कैसे करे का यह लेख आप को कैसा लगा हमें कमेंट करे और अपने दोस्तों के साथ शेयर करें|

Leave a Comment