बच्चे को बुखार का इलाज 10 आसान उपाय और घरेलू उपचार

Bachon ke bukhar ka ilaj ke liye gharelu upchar aur upay in hindi :  वैसे तो बच्चों को हल्का-फुल्का बुखार होना स्वाभाविक है, क्योंकि बाल्यावस्था में बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है और वो आसानी से इन्फेक्शन की चपेट में आ जाते है| और आप का बच्चा अचानक खेलता-खेलता सुस्त हो जाता है और उसका शरीर गरम हो जाता है|

वैसे तो बुखार आना किसी बीमारी के शुरुआती लक्षण हो सकते है लेकिन हमेशा फीवर आने का मतलब कोई रोग होना भी नहीं है| कई बार यह बुखार माता-पिता के लिए चिंता का विषय बन जाता है| बुखार का ज्यादा दिनों तक बना रहना घातक परिणाम हो सकता है| ज्यादातर लोग बुखार उतारने और कम करने के लिए देसी घरेलू नुस्खे, आयुर्वेदिक इलाज, दुआ और बेबी फीवर दवा का इस्तेमाल करते है|

नवजात शिशु और छोटे को बच्चे बुखार हो जाने पर बच्चे को डॉक्टर की सलाह के बिना सर्दी खांसी या बुखार का कोई सिरप या दवा नहीं देना चाहिए अगर बच्चे को बुखार बार-बार आ रहा है या फिर दवा लेने के बाद भी बुखार कम नहीं हो रहा हो तो तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए| आज इस लेख में हम जानेंगे बच्चों के बुखार में क्या करें, natural ayurvedic treatment and home remedies (gharelu nuskhe) for baby fever in hindi. 

बच्चों को बुखार आने का कारण

  • ज्यादातर बच्चे दिन भर खेलते रहते है जिससे उन्हें थकान हो जाती है और रात में बुखार आ जाता है|
  • बच्चों को दांत निकलने के वख्त भी बुखार हो जाता है|
  • सर्दी जुखाम होना, गला खराब होना, ज्यादा गर्मी होना, ज्यादा ठंड लगना और ठंडे पानी से नहाना यह कुछ ऐसे कारण है जिसमें बच्चों को बुखार की परेशानी ज्यादा होती है|
ज़रूर पढ़ें -   दस्त रोकने और पेट की मरोड़ का इलाज के 10 आसान उपाय

बच्चे को बुखार के लक्षण

  • अधिक प्यास लगना, सुस्ती होना, शरीर टूटना और भूख ना लगना|
  • कब्ज होना, चक्कर आना, जी मचलना और चक्कर आना यह बेबी फीवर के लक्षण है|
  • बच्चों की आंखे लाल होना, सिर में दर्द होना, सिर गर्म होना, और सांस तेज होना|
  • अधिक ठंड या गर्मी लगने से शरीर में बेचैनी होना|

बच्चे को बुखार का इलाज और घरेलू उपचार

Bacho Ko Bukhar Ke Gharelu Nuskhe in Hindi

  1. बेबी का फीवर कम करने के लिए तुलसी के 2 पत्ते और दो काली मिर्च पीस कर शहद में मिला लें और बच्चे को दिन में 2 से 3 बार चटाये|
  2. एक साल से कम उम्र के बच्चे के लिए तुलसी बहुत कारगर है| यह एक प्राक्रतिक एंटीबायोटिक है यह शरीर की इम्युनिटी को बढ़ती है| 10 से 12 तुलसी के पत्ते 1 कप पानी में उबाल लें और इसमें 1 चम्मच शक्कर मिला कर बच्चे को दें|
  3. बच्चे की कफ (बलगम) का इलाज करने के लिए बच्चे को तुसली की पत्ते चबाने को दें|
  4. नवजात शिशु के बुखार में एक साफ कपड़े को ठंडे पानी में भिगो कर शिशु के सिर पर ठंडे पानी की भीगी पट्टी रखे| बेबी का बुखार कम करने के लिए हाथ, पैर और कमर पर भी कपड़े का इस्तेमाल करें| ध्यान रहे बर्फ का ठंडा पानी इस्तेमाल ना करें|
  5.  बच्चे के बुखार का इलाज करने के लिए सेब के सिरके का प्रयोग भी कर सकते है| हल्के गरम पानी में आपल साइडर विनेगर मिला लें इसमें एक साफ कपड़ा भिगो कर निचोड़ लें और बच्चे के शरीर पर कपड़ा मले| इस घरेलू नुस्खे को दिन में दो से तीन बार करने से बुखार उतारने लगेगा|
  6. 6 महीने से भी कम उम्र के बच्चे का बुखार ठीक करने के लिए माँ का दूध बहुत जरूरी है| इससे शिशु को जरूरी पोषक तत्व मिलते है और बच्चे को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है|
  7. अगर माँ अपने बच्चे को दूध पिलाती है तो उसे बात-बात पर दर्द निवारक दवा का सेवन नहीं करना चाहिए|
  8. बुखार से राहत पाने के लिए जायफल को पीस कर, माथे, नाक और छाती पर इसका लेप करे बुखार में आराम मिलने लगेगा|
  9. अगर आप के बच्चे को बुखार बार बार आ रहा है या फिर दवा और इलाज करने के बाद भी बुखार कम नही हो रहा है तो तुरंत डॉक्टर से मिले और सलाह लें|
  10. हमें जो आप को उपर घरेलू उपाय और नुस्खे बताये है यह सिर्फ आपकी जानकारी के लिए है बच्चे के बुखार का इलाज में कोई भी उपाय और दवा करने से पहले आप अपने डॉक्टर से मिले और सलाह जरूर लें|
ज़रूर पढ़ें -   प्रेग्नेंसी के दौरान गर्भवती महिला को क्या खाना चाहिए और क्या नहीं

बच्चों को बुखार होने पर क्या करे – Baby Fever Treatment in Hindi

  • छोटे बच्चों को बुखार आने के साथ ही साथ अगर आप को कुछ दूसरे लक्षण दिखे तो तुरंत डॉक्टर से मिले और इसके बारे में बताये जैसे उल्टी आना, सर्दी जुखाम और दस्त लगना|
  • आप अपने बच्चों को नरम और आरामदायक कपड़े पहनाए, और उसका कमरा भी आरामदायक हो वहां का तम्प्रेचर न ज्यादा हो न कम हो|
  • शिशु को पैरों के नीचे तलवे पर गुनगुने जैतून के तेल से हल्के हाथ से मालिश करें, इससे बच्चे को अच्छी नींद आती है और यह बुखार को जल्दी ठीक करता है|
  • बुखार होने की वजह से बच्चे के शरीर में पानी की कमी ना हो इसके लिए बच्चे को दिन भर पानी या फिर जूस आदि पीने को दें|
  • अगर आप का नवजात शिशु रोता रहता है| तो तुरंत डॉक्टर से मिले और जांच करवाएं|

हेल्लों दोस्तों बच्चे को बुखार का इलाज 10 आसान उपाय और घरेलू उपचार का यह लेख आप को कैसा लगा हमें कमेंट करे और अपने दोस्तों के साथ शेयर करें|

Leave a Comment