हाई यूरिक एसिड का इलाज 10 आसान घरेलू उपाय और देसी नुस्खे

Uric acid km karne ke upay in hindi : हमारे शरीर में यूरिक एसिड प्यूरिन के टूटने से बनता है| यह ब्लड के माध्यम से बहता हुआ किडनी तक पहुंचता है वैसे तो यूरिक एसिड यूरिन के रूप में शरीर से बाहर निकल जाता है लेकिन, कभी-कभी यह शरीर में ही रह जाता है|और इसकी मात्रा बढ़ने लगती है|

यूरिक एसिड बनने पर यह जोड़ों में इकठठा होने लगता है जिस वजह से जोड़ों में दर्द की शिकायत आने लगती है पैरों की उंगलियों, एड़ियों और घुटनों में दर्द होने का एक कारण यूरिक एसिड की मात्रा का बढ़ना भी ही है| इस रोग को गाउट के नाम से भी जानते है| इससे कई समस्याएं हो सकती है, जैसे गौटी गाउट (यूरिक एसिड क्रिस्टल जोड़ों में जमा हो जाते है, आमतौर पर बड़ी पैर की उँगली पर) किडनी स्टोन और गुर्दे का खराब होना|

समय के रहते यूरिक एसिड का इलाज या उपचार नहीं किया तो इस रोग से पीड़ित लोगों को उठने बैठे और चलने फिरने की परेशानी आने लगती है| यूरिक एसिड की उच्च मात्रा के कारण गठिया जैसी समस्याएं पीड़ित हो सकती है| इसलिए इस बीमारी को समय से ही कंट्रोल करना बहुत जरूरी है| कुछ देसी नुस्खे और आयुर्वेदिक दवा से हाई यूरिक एसिड का घरेलू इलाज कर सकते है, और गाउट दर्द से छुटकारा पा सकते है, natural home remedies for high uric acid treatment in hindi. 

यूरिक एसिड क्यों बढ़ता है : Causes

Uric एसिड एक ऐसा केमिकल है यह हमारे शरीर में तब बनता है जब शरीर प्यूरिन नामक केमिकल को संसाधन करता है| इस क्रिया से बना हुआ यूरिक एसिड रक्त में मिल जाता है और किडनी तक पहुँच जाता है किडनी रक्त से केमिकल को छान लेते है और मूत्र मार्ग के रास्ते से बाहर निकल जाता है| किसी वजह से जब यह शरीर से बाहर नही निकलता यो यह शरीर में इखठ्ठा होने लगता है और एक क्रिस्टल की तरह बन जाता है जब यूरिक एसिड का स्तर ज्यादा हो जाता है तब ये परेशान करने लगता है|

ज़रूर पढ़ें -   7 दिनों में पेट का मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट

यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण : Symptoms

कुछ लोगों को इस रोग के बारे में ज्यादा पता नहीं होता है| हम शुरुआती लक्षण देख कर ही बीमारी का आइडिया लगा सकते है| इस बीमारी को पहचानने के लिए इस रोग के लक्षणों की पहचान होना जरूरी है|

  1. जोड़ो में गांठ का होना|
  2. पैर के अंगूठे में सूजन हो जाना|
  3. घुटनो में दर्द होना उठते बैठते समय|
  4. जोड़ों में सूजन और दर्द होना|

यूरिक एसिड कम करने के उपाय और घरेलू इलाज

Home Remedies for High Uric Acid in Hindi

  1. सेब का सिरका यूरिक एसिड को शरीर से साफ करने में मदद करता है| इसमें मौजूद एसिड, यूरिक एसिड को तोड़ता है और उसे बाहर निकालता है| यह यूरिक एसिड क्रिस्टल को तोड़ता है और रक्त परिसंचरण को शुद्ध करता है| एक चम्मच सेब के सिरके को एक गिलास पानी में मिलाकर दिन में दो से तीन बार पिए|
  2. एक गिलास पानी में आधा चम्मच बेकिंग सोडा मिला लें और अच्छे से मिला कर इसका सेवन करे| जिससे शरीर के अंगों में जमा क्रिस्टल टूट कर शरीर में घुल जाते है और मूत्र मार्ग के रास्ते से बाहर निकल जाते है|
  3. एलोवेरा जूस में आंवले का रस मिला कर सेवन करने से लाभ होता है|
  4. बड़ा हुआ यूरिक एसिड कम करने के लिए रोजाना खाली पेट दो से तीन अखरोट खाएं|
  5. 1 गिलास गरम दूध के साथ 1 चम्मच शहद और 1 चम्मच अश्वगंधा मिला कर सेवन करे| गर्मियों में अश्वगंधा कम मात्रा में सेवन करें|
  6.  हाई यूरिक एसिड को कम करने के लिए नारियल पानी का सेवन से भी मदद मिलती है|
  7. अगर आप को लग रहा है की आप का यूरिक एसिड बढ़ कर गठिया हो गया है तो रोजाना सुबह खाली पेट बथुए के पत्तों का जुस निकाल कर सेवन करे| और इसे पीने के 2 घंटे बाद तक कुछ खाए पिए ना|
  8. खाना खाने के आधे घंटे बाद 1 चम्मच आलसी के बीज खाने से भी लाभ होता है|
  9. यूरिक एसिड कम करने के लिए गाजर, सेब और चुकंदर का जूस रोज सेवन करे, इससे शरीर में पीएच का स्तर बढ़ता है|
  10. आयुर्वेदिक तरीके से यूरिक एसिड का इलाज करने में अजवाइन बहुत कारगर है| अजवाइन खाने से शरीर में यूरिक एसिड कंट्रोल में रहता है| भोजन पकाते वख्त अजवाइन का प्रयोग करें|
ज़रूर पढ़ें -   प्रेग्नेंसी में ब्लीडिंग होना कारण व रोकने के उपाय

यूरिक एसिड और गाउट दर्द का आयुर्वेदिक इलाज

गाउट का दर्द और यूरिक एसिड से राहत पाने और आयुर्वेदिक इलाज में कच्चा पपीता बहुत लाभदायक है| 1 कच्चा पपीता ले और उसे कट ले और उसमें से बीज निकाल दें| 1 से 2 लिटर पानी में कटे पपीते को 8 से 10 मिनट तक उबले, और साथ ही साथ 1 से 2 चम्मच ग्रीन टी की पत्तियां भी डाले| जब पानी ठंडा हो जाए तो इसे छान लें और रोजाना दिन में 2 से 3 बार इसका सेवन करे|

यूरिक एसिड कम करने के तरीके

  • पानी ज्यादा पिए

पानी ज्यादा से ज्यादा पिए क्यूंकि यूरिक एसिड शरीर से मूत्र मार्ग के बाहर निकलता है साथ ही साथ पानी से शरीर में ऊर्जा का स्तर बना रहता है जिससे शरीर में चुस्ती आती है|

  • वजन कम करे

यूरिन एसिड को कंट्रोल में रखने के लिए वजन को नियंत्रण में रखना बहुत जरूरी है अगर आपके शरीर में मोटापे की वजन से चर्बी ज्यादा है तो प्यूरिन टूटने की संभावना ज्यादा होती है जिस वजह से यूरिन एसिड के बढ्ने का खतरा बढ़ जाता है| वजन को कम करने के लिए एक दम से डाइट ना करे, हल्के-हल्के शुरू करे|

हाई यूरिक एसिड में क्या खाये और क्या नहीं खाना चाहिए

  • दूध कम फैट वाला ही सेवन करे|
  • शराब और बियर के सेवन से बचे|
  • डिब्बा बंद खाना खाने से परहेज करें|
  • पैनकेक, केक और पेस्ट्री खाने से बचे|
  • जैतून का तेल खाना बनाने में इस्तेमाल करें|
  • यूरिक एसिड में ओमेगा-3 फैटी एसिड खाने से बचे|
  • नींबू पानी का सेवन करे यह शरीर को साफ करता है|
  • आप अपने खाने में ऐसी चीजें शामिल करे जिसमें फाइबर अधिक मात्रा में पाए जाते हो|
  • गठिया का इलाज करने और यूरिक एसिड बाहर निकालने के लिए चेरी, स्ट्राबेरी और जामुन जैसे फल फायदेमद होते है|
ज़रूर पढ़ें -   बाबा रामदेव पतंजलि की दवाइयां आयुर्वेदिक उपचार ब्यूटी प्रोडक्ट

हेल्लों दोस्तों हाई यूरिक एसिड का इलाज 10 आसान घरेलू उपाय और देसी नुस्खे का यह लेख आप को कैसा लगा हमे कमेंट करे और अपने दोस्तों के साथ शेयर करें|