नींबू से रोगो का उपचार

नींबू एक ऐसा फल है इसकी जितनी भी तारीफ की जाए कम है| इसका सेवन हर मौसम में किया जा सकता है यह खाने में बहुत खट्टा होता है नींबू से शिकंजी बनाई जाती है नींबू चेहरे पर लगाया जाता है चेहरे पर लगाने से मुँह के दाग धब्बे ख़तम हो जाते है  इसे दस्त में भी उपयोग कर सकते है नींबू बहुत ही फायदे मंद होता है इस लिए आज हम नींबू से रोगो का उपचार के बारे में बात करेंगे तो चलिए जानते है कि नींबू से क्या क्या फायदें होते है इसे कैसे इस्तेमाल में लेते है |

हमारे शरीर में नींबू का काम बहुत उपयोगी है | यह बदलते परिवेश में अपने आप अपने गुणों को समायोजित करके मौसमी दोषों को दूर भागता है | इसका मुख्य काम यह होता है की यह शरीर के विषों को नष्ट कर के उन्हें बाहर निकलता है अगर किसी रोगी को उपदंश है कि नहीं, इसकी जांच करनी है तो पुरुष या स्त्री के शरीर के किसी भी भाग पर नींबू का रस लगा दो | यदि इस स्थान पर असहनीय दर्द हो तो समझ लो उपदंश है | लम्बे डाक्टरी टैस्टों की आवश्यकता नहीं है |

नींबू से रोगो का उपचार – Lemon treatment

  1. जिन्हे पीला ज्वर है, उनको फीके पानी के साथ रोगी को पीला देना चाहिए | इसमें विशेष ध्यान यह रखें कि पानी में मीठा बिलकुल न मिलाएं |
  2. दांतों के रोगी को ताजे पानी में नींबू निचोड़कर कुल्ले करने से दांतों के रोगों में लाभ मिलता है इसके साथ-साथ मुंह की दुगन्ध भी दूर होती है |
  3. जिनका गला बैठा हो या गले में सूजन हो जाये तो ताजा पानी या गर्म पानी में नींबू निचोड़कर नमक डालकर दिन में तीन बार गरारे करने से लाभ होता है |
  4. जिन्हे घट्टा पड़ गए हो, उन्हें नींबू का रस लगाना चाहिए | इससे घट्टे नरम पड़ जाते है इस पर नींबू का एक टुकड़ा बांध भी सकते है उससे भी बहुत फायदा मिलेगा |
  5. जिन लोगों को मच्चर ने काटा हो और दर्द तेज हो रहा हो तो उस पर नींबू का रस लगायें |
  6. इसका रस नमक के साथ मिलाकर बिच्छू, मकड़ी, बर्र और मधुमक्खी के काटे स्थान पर लगाने से बहुत आराम मिलता है | खटमल पिस्सू के काटने पर भी नींबू का रस लगाना चाहिए |
  7. गठिया के रोगी को एक गिलास पानी में नींबू निचोड़कर पीने से रोग में आराम मिलता है |
  8. जिस रोगी का पेशाव रुक गया हो, उसे नींबू के बीजों को पीसकर नाभि पर रख कर ठण्डा पानी डाले | इससे रुका हुआ पेशाव होने लगता है |
  9. जिनके बाल सफेद हो उन्हें नींबू के रस में पिसा हुआ सूखा आंवला मिलाकर कम से कम सप्ताह में एक बार सफेद बालो पर लेप लगाना चाहिए इससे बहुत फायदा मिलेगा और बाल भी मजबूत रहेंगे | इससे बालों के अन्य रोग भी ठीक हो जाते है |
ज़रूर पढ़ें -   जल्दी मोटा होने के लिए 3 आयुर्वेदिक दवा और उपाय इन हिंदी

नींबू से चर्बी घटने के उपाय – Measures to reduce fat from lemon

  1. 25 मिलीलीटर नींबू को रस में 25 मिलीलीटर शहद और 100 मिलीलीटर गर्म पानी मिलकर रोज सुबह-शाम पाने से मोटापा दूर होता है |
  2. 1 नींबू का रस रोज सुबह-शाम गुनगुने पानी में मिलाकर पिने ने से मोटापा की बीमारी नहीं होती है |
  3. गुनगुने पानी में नींबू के रस और शहद को मिलाकर रोजाना पिने से मोटापा खत्म हो जाता है |
  4. नींबू 25 मिलीलीटर रस और करेला का रस 15 मिलीलीटर मिलाकर कुछ दिनों तक सेवन करने से मोटापा नष्ट होता जाता है |
  5. 250 मिलीलीटर पानी में 25 मिलीलीटर नींबू का रस और 20 ग्राम शहद के साथ 2 से 3 महीने तक सेवन करने से लाभ होता है |
  6. नींबू के रस और शहद के बराबर भाग में लेकर 10 मिलीलीटर की खुराक के रूप में सुबह सेवन करने से मोटापे में आराम मिलता है |
  7. 1 कप गरम पानी जितना पी सकते है पिले जितना पानी सुब है में पिए उतना ही रात को भोजन के बाद पीने से शरीर की चर्बी के कम होने के अलावा, गैस,कब्ज,कोलाइटिस (आंतों की सूजन) एमोबाइसिस और कीड़ो में भी लाभ मिलता है|

जिन लोगों के चेहरे पर धब्बे हों, उन्हें चाहिए की समुद्र के झाग के साथ नींबू रस में मिला लें | समुद्र का झाग पीसा हुआ होना चाहिए | फिर रात में इसके लेप को चेहरे पर लगा लें | अगली सुबह को गुनगुने पानी से चेहरा धो लें | कुछ महीने बाद ही चेहरे के धब्बे गायब हो जाएंगे |

जिन्हे यश्मा का रोग हो और लगातार बुखार आता हो, उनके लिए पत्ता तुलसी और नमक तथा जीरा, हींग, एक गिलास गर्म पानी, 25 ग्राम नींबू का रस मिलाकर दिन में तीन बार कुछ दिनों पिने से इस रोग से छुटकारा मिलने की संभावना हो जाती है |

ज़रूर पढ़ें -   अचानक शरीर में तकलीफ हो जाना होम्योपैथिक इलाज

नींबू से अन्य रोगों के उपचार – Treatment of lemon from other disease

  1. मिरगी के रोगी के लिए एक ग्राम हींग नींबू के रस के साथ चूसने से इस रोग में लाभ होता है |
  2. हिस्टीरिया के रोग को गर्म पानी में नींबू, नमक, जीरा, हींग भुनी हुई, पुदीना मिलाकर पिलाने से रोगी को लाभ मिलता है |  बस इस योग को लगातार दो-तीन महीने तक करने से लाभ होता है |
  3. नींबू का रस पाचन, ज्वरहर और मूत्र पैदा करने वाला है | इसके सेवन से आमाशय पुष्ट होता है |
  4. नींबू की खटाई खून को साफ करती है | खून की खटाई को भी दूर करती है और खून को क्षार प्रदान करती है |
  5. नींबू और प्याज का रस मिलाकर पिने से हैजे में आराम मिलता है |
  6. जिनको गले की पीड़ा हो उन्हें नींबू के रस पीना चाहिए |
  7. जो लोग शूल रोग से पीड़ित है, उन्हें नींबू के रस में शहद और  जवाखार मिलाकर चाटने से आराम मिलता है |
  8. जो बच्चे दूध उगलते है, उन्हें नींबू के रस में शहद मिलाकर चटाना चाहिए| इससे उनका दूध उगलना बंद हो जायेगा |
  9. जिन लोगों को दाद का रोग है, उन्हें इमली के बीज को पीसकर नींबू के रस में मिलाकर लगाने से दाद मिटता है |
  10. जिन लोगों के शरीर में त्वचा रोग है, उन्हें चाहिए की वे नींबू के रस में नारियल का तेल मिलाकर शरीर पर उसकी मालिश करें | इससे चमड़ी के रोग मिटते है |
  11. जिन लोगों के सिर में दारूर रोग (सिर में छोटी- छोटी फुंसियां) हो तो उन्हें सरसों का तेल और नींबू का रस बराबर मात्रा में लगाने से इस रोग से छुटकारा मिल जाता है |
  12. शहद और नींबू का रस, नींबू चार भाग, शहद एक भाग मिलाकर चाटने से भयंकर खांसी मिट जाती है |
  13. जिनके यकृत कमजोर हों उन्हें नींबू का सेवन वैध या डॉक्टर की सलहा से ही करना चाहिए |
  14. जिन लोगों को दांतों में खून आने की शिकायत हो, उन्हें नींबू का रस लेकर उंगली से मसूढों में रगड़ना चाहिए | इससे दांतों में आने वाला खून बंद हो जाता है और बहुत फायदा मिलता है |
ज़रूर पढ़ें -   ब्रेस्ट साइज कम करने के 10 आसान उपाय और एक्सरसाइज टिप्स

हेल्लो दोस्तो नींबू से रोगो का उपचार कैसी लगी आप को यह पोस्ट हमे कमेन्ट करे और अपने दोस्तो के साथ शेयर करे |

Leave a Comment