पेट में गैस बनने के कारण लक्षण और इलाज की रामबाण दवा

Pet me gas banane ke karan lakshan aur ilaj ki achuk dawa in hindi : पेट में गैस बनना भले ही कोई गंभीर बीमारी ना हो पर ये शरीर को होने वाले अन्य रोग के लक्षण हो सकते है| पेट में गैस बनना पाचन प्रक्रिया का एक स्वाभाविक हिस्सा है| इसका मुख्य लक्षण पेट फूलना होता है| ज़्यादातर लोग पूरे दिन में कई बार पेट की गैस निकाल देते है|

हालांकि ये एक सामान्य बात है, लेकिन अगर पेट में गैस हद से ज्यादा बढ़ जाती है तो इस पर आपको जरूरत ध्यान देना चाहिए| बिगड़ते लाइफस्टाइल, बिजी लाइफस्टाइल और स्वस्थय को लेकर लापरवाही के चलते आज पेट की गैस यानि एसिडिटी की समस्या आम हो गई है| हर 10 में से 8 आदमी इस प्रॉबलम के शिकार है| लेकिन यह आम सी लगने वाली समस्या ही आगे कई प्रॉबलम्स खड़ी कर देती है| दरअसल, रोजमर्रा की जिंदगी में हम कुछ ऐसी चीजों का सेवन करते है जिससे पेट में गैस की परेशानी बार-बार होती है|

सुबह पेट ठीक से साफ ना होना और कब्ज की वजह से भी गैस के लक्षण दिखते है जैसे की पेट में भारीपन महसूस होना, बार बार पाद आना, गैस निकलना और सीने में दर्द होना| प्रतिवर्ष गैस की बीमारी से छुटकारा पाने के लिए लोग दवाओं पर बहुत पैसा बर्बाद करते है पर घरेलू उपाय और देसी आयुर्वेदिक नुस्खे भी गैस की समस्या से छुटकारा पाने में रामबाण का काम करते है| आज इस लेख में हम जानेंगे पेट में गैस क्यों बनती है और इसका उपचार कैसे करे, pet me gas ke karan lakshan dawa aur ilaj ke desi gharelu nuskhe in hindi.  

गैस से होने वाली परेशानियां

  • पेट में भारीपन होना, मरोड़ उठना और पेट का फूलना|
  • भूख ना लगना और पेट में खिचाब होना|
  • कमर, सीने और पीठ में दर्द होना|
  • बार-बार पाद आना और गैस निकलना|
  • घबराहट होना और चक्कर आना|
ज़रूर पढ़ें -   महिलाओं में ह्रदय रोग इन हिन्दी

पेट में गैस बनने के कारण और रामबाण इलाज

Pet Me Gas ke Karan Aur ilaj in Hindi

दूध व दूध से बनी चीजें

किसी भी व्यक्ति की उम्र बढ़ने के साथ साथ उसका पाचन तंत्र कमजोर होने लगता है| ऐसी स्थिति में दूध व दूध से बनी चीजें पचती नहीं जिससे गैस की बीमारी हो जाती है| ज़्यादातर बड़ी उम्र के लोग बार बार पाद आने और गैस निकलने से बहुत परेशान रहते है| ऐसी स्थिति में दूध से बनी चीजें नहीं खानी चाहिए|

प्रेग्नेंट महिला

महिला जब प्रेग्नेंट होती है तब उसे गैस की समस्या बहुत होती है| क्यूंकि ऐसी स्थिति में महिला के शरीर में कई हार्मोन्स बदलाव होते है| इसका असर पाचन तंत्र पर भी पड़ता है और पेट में गैस की परेशानी होने लगती है| गर्भावस्था में इससे बचने के लिए संतुलित डाइट लें|

चाय कॉफी का अधिक सेवन करना, शराब पीना, ज्यादा तनाव लेना और धूम्रपान

ऐसे बहुत से कारण है जिनकी वजह से गैस का समस्या होती है| जैसे की चाय कॉफी का अधिक सेवन करना, शराब पीना, ज्यादा तनाव लेना, बासी खाना, धूम्रपान, पेट भरने  पर खाना, एक साथ बेमेल चीजें खाना, और व्यायाम ना करना|

मैदे से बनी चीजें

आजकल बहुत से लोग फास्ट फूड को पसंद करते है और मैदे से बनी हुई चीजों का सेवन करते है जिनको पचने में बहुत ज्यादा समय लगता है|

भारी दालें, उरद की दाल, फूल गोभी, दूध, राजमा और कोल्ड ड्रिंक

पेट में गैस बनने के बहुत से कारण होते है जैसे की फैटी लिवर, लिवर में सूजन, पथरी, शुगर और मोटापा भी पेट में गैस बनने का एक कारण ही है| इसके अलावा भारी दालें, उरद की दाल, फूल गोभी, दूध, राजमा, और खाना खाने के साथ कोल्ड ड्रिंक पीने से भी गैस बनती है|

ज़रूर पढ़ें -   महिला और पुरुष में बांझपन के कारण, लक्षण, निदान और इलाज - Femail and male Infertility Causes symptoms diagnosis and teratment in hindi
खाली पेट रखना

ज्यादा लम्बे समय तक खाली पेट रहने से भी पेट में गैस की शिकायत, जलन और एसिडिटी होने लगती है| इससे राहत पाने के लिए सही समय पर खाना सेवन करे|

खाना चबा-चबा कर सेवन करे

बहुत से लोग जल्दी जल्दी खाना खाने के चक्कर में खाने को ठीक से चबाने की बजाय उसे ऐसी निगल जाते है| जिसे पचने में बहुत समय लगता है| और गैस की शिकायत होने लगती है| इसे राहत पाने के लिए जरूरी है की खाने को आराम से और चबा चबा कर खाएं|

ज्यादा दर्द की दवा का सेवन करना

अधिक दर्द निवारक दवाओं का सेवन करने से पेट मेँ गैस बनने लगती है| इससे पाचन क्रिया भी कमजोर होने लगती है| इसलिए किसी भी दवा खाने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें|

भूख कम लगना, सीने छाती मेँ दर्द होना,

गैस बनने के बहुत से लक्षण होते है जैसे की भूख कम लगना, सीने छाती मेँ दर्द होना, पेट मेँ खिचाव होना, पेट ठीक से साफ ना होना, पेट मेँ मरोड़ होना, पाद आना और गैस निकलना|

पेट की गैस की रामबाण दवा और उपाय

  1. पेट मेँ गैस की समस्या को दूर करने के लिए अदरक सबसे अच्छा घरेलू उपचार है| अदरक का एक छोटा टुकड़ा ले कर कुछ देर तक दांतों से चबाये और इसके रस को पी लें|
  2. गैस से राहत पाने के लिए 1 गिलास हल्के गुनगुने पानी मेँ थोड़ा सा काला नमक मिलाकर सेवन करे| यह घरेलू नुस्खा पेट से जुड़ी अन्य बीमारियों मेँ रामबाण का काम करती है|
  3. जीरा पेट को ठीक रखने और पाचन से जुड़े रोगों को दूर करने के लिए बहुत कारगर होता है| जिससे भोजन पचने मेँ मदद मिलती है| और गैस की समस्या नहीं होती| जीरे मेँ इसेंशियल ऑयल मौजूद होता है जो गैस का एक घरेलू इलाज है| जीरे को चबा-चबा कर खा सकते है या फिर जीरे का पानी भी पी सकते है|
  4. पेट की गैस के इलाज के लिए छोटी हड़क, अजवाइन, जीरा और काला नमक एक बराबर ले और इसे पीस लें इस चूर्ण को 3 से 4 ग्राम की मात्रा मेँ हल्के गर्म पानी के साथ सेवन करे|
  5. अगर आप अपना गैस का इलाज आयुर्वेदिक दवा से करना चाहते है तो दिव्य गैसहर चूर्ण ले सकते है| यह दवा आप अपने आस-पास के बाबा रामदेव पतंजलि स्टोर से ले सकते है| यह दवा एसिडिटी, पेट दर्द, गैस और भारीपन से छुटकारा दिलाती है|
ज़रूर पढ़ें -   टाइफायड का इलाज के 5 आसान घरेलू उपाय और आयुर्वेदिक नुस्खे

हेल्लों दोस्तों पेट में गैस बनने के कारण लक्षण और इलाज की रामबाण दवा का यह लेख आप को कैसा लगा हमे कमेंट करे और अपने दोस्तों के साथ शेयर करें|