रागी खाने के फायदे और नुकसान – Ragi (Finger Millet) Benefits and Side effects in Hindi

Ragi khane ke fayde aur nuksan in hindi : रागी को अफ्रीका और एशिया में उगाया जाता है| रागी क्या है? रागी एक अनाज है यह अन्य प्रकार के पोषक पदार्थ से युक्त और ऊर्जा प्राप्त करने का बहुत अच्छा उपाय है| रागी में भरपूर कैल्शियम होता है| सौ ग्राम रागी में 328 कैलोरी और 344 मिलीग्राम कैल्शियम होता है| जो दूसरे अनाजों के मुक़ाबले पांच से तीन गुना अधिक मात्रा में पाया जाता है| रागी केबहुत से फायदे है और नुकसान बहुत कम है रागी में अधिक मात्रा में पोषक पदार्थ पाये जाते है| रागी ने अनाजों में एक स्पेशल स्थान प्राप्त किया है|

रागी खाने के फायदे और नुकसान - Ragi (Finger Millet) Benefits and Side effects in Hindi

रागी में अमीनो अम्ल मेठोनाइन होता है जो किसी भी स्टार्च वाले भोजन पदार्थ में नहीं होता है| रागी का सेवन करने के लिए रागी का आटा, रागी साबुत और अन्य अनाजों के आटे के रूप में यह उपलब्ध है| अगर आप अपनी डाइट में रागी को शामिल करना चाहते है और इसके फायदे जानना चाहते है तो हम आपको बताते है की आपको रागी को अपने डाइट में क्यों शामिल करना चाहिए|

सूखे हुए रागी के दानों को पीस कर आटा त्यार किया जाता है| रागी एक अच्छे संपन्न मूल कारण है| और चूंकि यह पॉलिश होने या संसाधित होने के लिए बहुत छोटा है| इसलिए अधिकतर निष्कलंक रूप में सेवन किया जाता है| रागी उचे पोषण मूल्य की वजह से रागी को खाद्यान्न के शिखर पर रखा जा सकता है| रागी आनज लस मुक्त होता है| यह बहुत आसानी से रोजाना डाइट का एक हिस्सा बन सकता है| कैसे की नाश्ते के लिए दलिया या चपातियों के रूप में| यह बहुत घना होता है इसे 7 से 3 अनुपात में गेहूं के आटे में मिलाएं और साथ में बेक या ब्रेड करें| Ragi Benefits in Hindi. 

अगर आप अपनी डाइट में रागी को शामिल करे रहे है और रागी के फायदों से अनजान है, तो हमारे पास इसके कारण और जानकार की सलाह है| की आपको सबसे ज्यादा रागी का इस्तेमाल क्यों करना चाहिए|

रागी के पोषक तत्व – Ragi Nutritional value in Hindi

Ragi में प्रोटीन और फाइबर के साथ ही साथ अन्य महत्वपूर्ण सूक्षम पोषक तत्व भी पाये जाते है| रागी में मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, मैंगनीज, फाइबर, प्रोटीन, और आयरन का एक अच्छा सूत्र है, और साथ ही साथ अन्य महत्वपूर्ण पोषक तत्व भी पाये जाते है| रागी पौष्टिक अनाज में से एक है|

  • रागी में मुख्य रूप से असंतृप्त वसा होता है रागी में वसा की मात्रा कम (1.3%) होती है|
  • रागी में पोटेशियम (408mg%) और कैल्शियम (344mg%) सबसे ज्यादा पाई जाती है|
  • 65-75% कार्बोहाइड्रेट|
  • 1-2% ईथर के अर्क|
  • 100 ग्राम रागी में औसत रूप में 336 KCal ऊर्जा होती है|
  • रागी में 5-8% प्रोटीन होता है|
  • 15-20% आहार फाइबर और 2.5-3.5% खनिज होते है|
ज़रूर पढ़ें -   कब्ज के कारण और घरेलू इलाज - Qabz Ka Ilaj – Home Remedies for Constipation in Hindi

Ragi में सबसे ज्यादा क्या है, रागी में कैल्शियम ज्यादा है, एक खनिज जो हड्डी के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है| यह लोहे में भी संपन्न है| जो आपके शरीर के खून को निर्माण करने में मदद करता है|

रागी खाने के फायदे – Ragi (Finger Millet) Khane Ke fayde in Hindi

इसे लोग ज्यादा से ज्यादा अंकुरित करके या रागी को पीसकर आटे के रूप में सेवन कर सकते है| खून की कमी है और कम हिमोग्लोबिन वाले पीड़ित व्यक्ति के लिए भी लाभदायक होती है| आइये जानते है की कैसे फायदेमंद होता है रागी का सेवन शरीर के लिए|

रागी का दलिया शिशुओं के लिए है उपयोगी – Ragi Porridge is useful for infants in Hindi

ऐसा माना जाता है की रागी बेहतर पाचन को बढ़ावा देता है| उसमें मौजूद उच्च कैल्शियम और लौह हड्डी विकास और शिशु के समग्र विकास के लिए फायदेमंद होता है| बच्चों के माँ का दूध छुड़ाकर कुछ खिलाने की प्रगति के दौरान रागी का पाउडर का इस्तेमाल किया जाता है| और यह बच्चों में दूध की कमी को पूरा करता है|

प्रोटीन या अमीनो अम्ल के लिए रागी के फायदे – Benefits Of Ragi for Protein or Amino Acids in Hindi

शरीर की सेहत और सामान्य काम करने की क्षमता के लिए अमीनो अम्ल के मामले में रागी अधिक कार्यशील है| नाइट्रोजन संतुलन के लिए रागी काफी सहायक है|

रागी खाने के फायदे त्वचा को रखें जवां – Keep skin healthy by eating ragi in Hindi

त्वचा को जवां बनाए रखने के लिए रागी अद्धभुत है| क्यूंकि इसमें मेथियोनीन और लाइसिन एमिनो एसिड पाए जाते है| जो त्वचा को जवां और झुर्रियां से बचाते है| विटामिन डी जो हमें सूर्य से प्राप्त होती है वो रागी में पाया जाता है| जो कैल्शियम को सही तरह से काम करने के लिए फायदेमंद होता है| रागी विटामिन डी के कुछ बहुत ही प्राक्रतिक स्रोतों में से एक है| जो सबसे ज्यादा सूर्य के प्रकाश से प्राप्त होती है| विटमिन डी कैल्शियम के लिए एक वाहक अणु है|

ज़रूर पढ़ें -   जल्दी वजन बढ़ाने और मोटा होने के लिए डाइट प्लान टिप्स

रागी के लाभ कोलेस्ट्रॉल कम करने में सहायक – Ragi Benefits to reduce cholestrol in Hindi

विकास के अपने प्रारंभिक दौर में, जब रागी हरा होता है, यह उच्च रक्तचाप को रोकने में मदद कर सकता है| इसमें एमिनो (amino acid) मौजूद होते है, जो लिवर (Liver) से अतिरिक्त वसा निकालकर कोलेस्ट्रोल का स्तर कम कर देता है| और साथ ही साथ रक्त वाहिकाओं में रुकावट को भी कम कर देता है| इसमें थ्रेओनीन एमिनो एसिड भी मौजूद होते है जो लिवर में वसा जमने नहीं देता और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम कर देता है|

रागी खाने के फायदे एनीमिया दूर करने के लिए – Ragi Benefits for anemia in Hindi

इसमें आयरन की उच्च मात्रा पायी जाती है| एनीमिया और निम्न हीमोग्लोबिन स्तर से पीड़ित रोगी अपने आहार में रागी को शामिल करे सकते है| अंकुरित रागी सेवन करने के फायदे और भी ज्यादा होते है| क्यूंकि रागी जब अंकुरित हो जाता है तो इसमें विटामिन C का लेवल बढ़ जाता है| जिससे खाने में पाए जाने वाले आयरन का अवशोषण बढ़ जाता है जिससे खून की कमी (एनीमिया से राहत) दूर होती है|

रागी के फायदे हड्डियों के विकास में मददगार – Ragi benefits in development of bones in Hindi

आजकल ज्यादातर कैल्शियम की कमी बूढ़ों से लेकर बच्चों तक सभी में देखी जाती है| जिसके लिए हम कैल्शियम की बहुलता वाले अनाज की बात करते है तो कोई भी अनाज रागी के करीब नहीं आता है| ऑस्टियोरोसिस को रोकने और हड्डी के विकास के लिए कैल्शियम एक महत्वपूर्ण कारक है| आप अपने और अपने बच्चों की डाइट में रागी काजी या दलिया शामिल करे ताकि आपकी और आपके बच्चों की हड्डिया मजबूत होने में मदद मिले|

रागी खाने के फायदे कैल्शियम की कमी पूरा करे – Ragi khane ke fayde Calcium ki Kami Ko Pura Kare

Ragi का आटा किसी भी अन्य अनाज की तुलना में कैल्शियम के सर्वोत्त्म गैर-डेयरी स्त्रोतों में से एक माना जाता है| 100 ग्राम रागी में 344 मिलीग्राम कैल्शियम पाया जाता है| कैल्शियम स्वस्थ दांतों और हड्डियों के लिए फायदेमंद होता है और यह बढ़ते बच्चों के लिए बेहद लाभदायक होती है| इस रागी को दलिया के रूप में बच्चे को खिला सकते है|

ज़रूर पढ़ें -   जल्दी गोरा होने के 10 आसान उपाय और घरेलू नुस्खे

रागी के लाभ मधुमेह की बीमारी में – Ragi Benefits for diabetes in Hindi

जो व्यक्ति मधुमेह के रोग से पीड़ित है वो लोग अपने शरीर में ग्लूकोस के स्तर को कम करने के लिए रागी का इस्तेमाल कर सकते है| उच्च पॉलीफेनोल और फाइबर सामग्री का एक अन्य फायदा है| बाजरे की रोटी रागी में फाइटोकेमिकल्स पाया जाता है| जो भोजन पचाने की कार्यविधि को हल्का कर देती है|

अनाज का बीज कोट चावल, गेहूं या मक्का की तुलना में पॉलीफेनोल और आहार फाइबर में ज्यादा तादाद में पाया जाता है| वह कम ग्लाइसेमिक प्रतिक्रिया के लिए जाने जाते है यह रक्तशर्करा को सुरक्षित सीमा में रखता है| इसे आप अपने सुबह के नाश्ते में शामिल करे या दोपहर के भोजन में लेना सबसे अच्छा उपाय है| ताकि आपका पूरा दिन ट्रैक पर रह सके|

रागी के फायदे वजन घटाने में – Ragi for weight loss in Hindi

अगर आप वजन कम करने के लिए कम वसा वाली डाइट को ढूंढ रहे है तो आपके लिए रागी बहुत कारगर होगी, क्यूंकि रागी में साधारण वसा सामग्री है वह अन्य सभी अनाजों से कम है| इसके अलावा यह वसा आपने असंतृप्त रूप में है| अगर आप चाहते तो रागी को चावल या रोटी की जगह इस्तेमाल करे सकते है| इसमें ट्रिप्टोफन नामक एमिनो एसिड भी होता है| यह आपकी भूख को कम कर देता है| अगर इसका सुबह में सेवन किया जाये तो आपका पेट पूरे दिन भरा रहेगा|

रागी के नुकसान – Ragi (Finger Millet) Side effrcts in Hindi

रागी के अनेक फायदे (Ragi Benefits hindi) है यह एक अच्छी डाइट है जिससे हमे अच्छे स्वास्थ्य की प्राप्ति होती है| लेकिन रागी को ज्यादा मात्रा में सेवन ना करें, क्यूंकि इससे शरीर में ज्यादा से ज्यादा ओक्सालिक एसिड (oxalic acid) का संपर्क होता है|

ज्यादा रागी का सेवन करने से बचे और खासकर जो लोग किडनी (Kidney) में पथरी से पीड़ित व्यक्ति है उसके लिए रागी का सेवन करना सही नहीं है|

हेल्लों दोस्तो रागी खाने के फायदे और नुकसान – Ragi (Finger Millet) Benefits and Side effects in Hindi का यह लेख आप को कैसा लगा हमें कमेंट करे और अपने दोस्तों के साथ शेयर करें|

Leave a Comment