थायराइड का इलाज जड़ से करने के 10 आसान उपाय और घरेलू नुस्खे

Thyroid Ka Ilaj in Hindi : महिलाओ और पुरुषों दोनों में थायराइड की बीमारी एक आम समस्या बनती जा रही है| बिजी लाइफ स्टाइल और अस्वस्थ खान-पान के कारण थायराइड के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है| विशेषकर महिलाओ में थायराइड की प्रॉब्लम काफी ज्यादा पायी जाती है| थायराइड गले में पायी जाने वाली एक छोटी ग्रंथि होती है जिससे थयोक्सिन हार्मोन्स बनता है| इस हार्मोन्स का जब संतुलन बिगड़ने लगता है तब ये एक रोग बन जाता है| तब शरीर का मेटाबाँलिज्म काफी तेज होने लगता है|

यह शरीर की ऊर्जा को बहुत तेजी से खत्म कर देता है| जब यह हार्मोन्स बॉडी में काफी ज्यादा हो जाते है तो शरीर का मेटाबाँलिज्म रेट बहुत धीमा होने लगता है| जिसकी वजह से शरीर की ऊर्जा कम बनने लगती है| और जिस्म में सुस्ती, थकान बढ़ने लगती है| यह रोग महिलाओं में अधिक पाया जाता है स्टडी के मुताबिक, पुरुषों की तुलना में महिलाओं को थायराइड होने की आशंका 10 गुना अधिक होती है| थायराइड कंट्रोल करने के लिए लोग दवाइयों और एक्सरसाइज का सेवन करते है| अगर आप थायराइड जड़ से खत्म करने का उपाय करना चाहते है आइये जानते है कि घरेलू तरीके और देसी नुस्खे क्या है, natural home remedies for thyroid treatment tips in hindi.

थायराइड ग्रंथि का क्या काम होता है 

शरीर में थायराइड एक ग्रंथि है, जो हमारे शरीर के दूसरे अंगों को अच्छे तरह से कार्य करने में मदद करता है| और जरूरत के हिसाब से हार्मोन्स बनाने के लिए थायराइड आयोडीन इस्तेमाल करता है| और शरीर के दूसरे हिस्से में पहुँचाता है| हार्मोन्स जरूरत से ज्यादा या कम बनने पर थायराइड के इलाज की जरूरत है|

  1. बॉडी का टेम्प्रेचर को कंट्रोल करने में मदद करती है|
  2. शरीर से जहरीले पदार्थ बाहर निकालने में  मदद करती है|
  3. शारीरिक विकास और बच्चों के मानसिक में थायराइड ग्रंथि का अहम योगदान है|

हाइपर थायराइड के लक्षण 

  1. हाथ और पैरों में कप कपाहट होना|
  2. दिल की धड़कने तेज होना|
  3. वजन कम हो जाना|
  4. बहुत पसीना आना|

हाइपो थायराइड के लक्षण

  1. बहुत कम भूख लगना|
  2. पेट में कब्ज़ रहना|
  3. वजन का बढ़ना|
  4. जोड़ों का दर्द, गर्दन का दर्द और सिर दर्द होना|
  5. आवाज़ भारी हो जाना|
  6. चेहरे और आँखों में सूजन आना|
  7. अधिक ठंड लगना|
ज़रूर पढ़ें -   दाद जड़ से खत्म करने की दवा रामबाण इलाज और 10 आसान उपाय

थायराइड होने के कारण 

  • ज्यादा तनाव नहीं लेना चाहिए क्यूंकि ज्यादा तनाव लेने से थायराइड ग्रंथि पर बुरा असर पड़ता है|
  • यदि आप के परिवार में किसी को भी थायराइड की समस्या है तो दूसरे सदस्यों को भी थायराइड होने की संभावना बढ़ जाती है|
  • गर्भवस्था एक स्त्री के जीवन में ऐसा समय होता है क्यूंकि जब महिला प्रेग्नेंट होती है तब प्रेग्नेंसी के समय शरीर में हार्मोन्स में बदलाव आते है ऐसे में गर्भवती महिला को थायराइड होने की संभावना अधिक होती है|
  • कई बार दवाओं के (साइड इफैक्टप) से भी थायराइड की बीमारी अधिक होती है|
  • कैप्सूल या सप्लीमेंट्स, प्रोटीन पाउडर के रूप में सोया के प्रोडक्ट्स से अधिक सेवन से भी थायराइड होने के कारण हो सकते है|
  • भोजन में आयोडीन की कमी या ज्यादा इस्तेमाल से भी थायराइड की समस्या हो जाती है|

थायराइड का इलाज के घरेलू उपाय और देसी नुस्खे

Thyroid Treatment Home Remedies in Hindi

  1. थायराइड के रोग से छुटकारा पाने के लिए लौकी का जूस पिने से थायराइड का रोग खत्म हो जाता है रोज सुबह को खाली पेट लौकी का जूस का सेवन करे और जूस पिने के आधे या एक घंटे तक कुछ खाये या पिये न|
  2. अश्वगंधा एक ऐसी जड़ी बूटी है जिसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण हार्मोन्स की मात्रा में उत्पादन कर जो थायराइड को रोकने का कम करता है| एक चम्मच अश्वगंधा चूर्ण एक गिलास गाय के गुनगुने दूध के साथ रात को सोते वक्त इसका सेवन करे|
  3. थायराइड का इलाज जड़ से करने में अदरक एक असरदार घरेलू उपाय है| आधे गिलास पानी में आधा इंच अदरक का टुकड़ा डालकर 15 से 20 मिनट तक उबाले| फिर उसे ठंडा होने के बाद उस में 1 चम्मच शहद मिला कर उसका सेवन करे| खाने में अदरक का प्रयोग करे भी कर सकते है| थायराइड की समस्या से छुटकारा पाने में यह घरेलू उपाय काफी मदद करता है|
  4. जिन लोगो को थायराइड की बीमारी है उन लोगो को नारियल के तेल का सेवन करना चाहिए|नारियल के तेल में कुछ ऐसे फैटी एसिड होते है जो शरीर का तापमान कंट्रोल और वजन कम करने में काफी मदद करता है| 1 से 2 चम्मच नारियल के तेल का सेवन करे और नारियल तेल का सेवन आप अपने खाने में भी कर सकते है|
  5.  थायराइड से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपचार में काली मिर्च काफी फायदेमंद होती है| आप किसी भी तरीके से काली मिर्च का सेवन कर सकते है यह आप को फाइदा करेगी|
  6. थायराइड का घरेलू इलाज करने के लिए हरा धनिया पीस कर उसकी चटनी बना ले और एक गिलास पानी में 1 चम्मच चटनी मिला कर उसका सेवन करे| इस घरेलू उपाय जो जब भी करे ताजी चटनी बना कर ही सेवन करे| इस देसी नुस्खे को सही तरीके से करने पर यह आप की थायराइड को कंट्रोल में करेगा|
  7. हर रोज सुबह को आधा घंटा एक्सरसाइज करे, एक्सरसाइज करने से आप की थायराइड कंट्रोल में रहता है और बढ़ता भी नहीं है|
  8. अलसी में ओमेगा-3 फैटी एसिड अधिक मात्रा में पाया जाता है| हाइपोथायरायडिज्म से पीड़ित लोगों को अलसी और अलसी का तेल का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए|
  9. थायराइड के रोग से छुटकारा पाने के लिए हल्दी के दूध का सेवन बहुत ही फायदेमंद होता है| रोजाना दूध में हल्दी मिला कर इसका सेवन करने से यह आप के थायडाइड को कंट्रोल करता है| अगर आप से हल्दी वाला दूध न पिया जाये तो आप जल्दी को भून का इसका सेवन भी कर सकते है|
  10. थायराइड से छुटकारा पाने के लिए अगर आप आयुर्वेदिक दवा लेना चाहते है तो आप बाबा रामदेव की बनाई दवा दिव्या कांचनार गुग्गुलु ले| यह मेडिसिन आप किसी भी पतंजलि स्टोर से ले सकते है|
ज़रूर पढ़ें -   जल्दी गोरा होने के 10 आसान उपाय और घरेलू नुस्खे

थायराइड में क्या खाएं 

  1. थायराइड के रोगी को प्रतिदिन 7 से 8 लीटर पानी पीना चाहिए, यह शरीर के गंदे पदार्थ को बाहर निकालने में बहुत मदद करता है| और एक से दो गिलास फलों का जूस का सेवन भी करना चाहिए| एक हफ्ते में 2 से 3 बार नारियल पानी का भी सेवन करे|
  2. थायराइड को कंट्रोल में करने के लिए आयोडीन काफी असरदार माना जाता है| ज्यादा से ज्यादा नेचुरल आयोडीन का सेवन करे, जैसे लहसुन, प्याज और टमाटर|
  3. थायराइड को कंट्रोल में करने के लिए हरी सब्जियां और गाजर का सेवन करना बहुत फायदेमंद होता है क्यूंकि इसमें विटामिन ए की मात्रा अधिक होती है| जो थायराइड को कंट्रोल करने में काफी मदद करता है|

थायराइड में क्या नहीं खाना चाहिए

  1. थायराइड में बाजार में उपलब्ध सफ़ेद नमक का परहेज करे, और खाने में सोधा या काला नमक का सेवन करना चाहिए|
  2. शराब, सिगरेट, तम्बाकू और आदि नशीली चीजों से परहेज करें|

थायराइड ट्रीटमेंट टिप्स इन हिन्दी

  1. पुरुषों से ज्यादा महिला में थायराइड का रोग अधिक होता है| थायराइड का रोग होने के बाद किसी भी प्रकार की लापरवाही न करे और तुरन्त अच्छे डॉक्टर से इलाज कराए|
  2. थायराइड रोगी को हर तीन महीने बाद इसकी जांच करवानी चाहिए|  और टेस्ट करने से 12 घंटे पहले किसी भी चीज का सेवन न करे| टेस्ट करने से पहले इस बात का विशेष ध्यान रखे|
  3. शादीशुदा महिला अगर थायराइड रोगी हो जाती है या उससे प्रभावित है और वो गर्भ धरण करना चाहती है तो पहले डॉक्टर से मिले और विस्तार से पूरी बात जाने थायराइड को कंट्रोल करने के बाद ही प्रेग्नेंसी के बारे में सोचे|
ज़रूर पढ़ें -   बवासीर के मस्से और दर्द का उपचार के 7 घरेलू आयुर्वेदिक उपाय

थायराइड जड़ से खत्म करने के उपाय होम्योपैथिक ट्रीटमेंट से

थायराइड का इलाज आप होम्योपैथिक मेडिसिन से भी कर सकते है| आप किसी भी होम्योपैथिक डॉक्टर से मिले और अपनी बीमारी के बारे में पूरी जानकारी के साथ बताए और डॉक्टर पूरी विस्तार से जानकारी ले कर आप को मेडिसिन देंगे| उसे लेने का सही तरीका, सही मात्रा और परहेज की पूरी जानकारी के साथ ले|

हेल्लों दोस्तों थायराइड का इलाज जड़ से करने के 10 आसान उपाय और घरेलू नुस्खे का यह लेख आप को कैसा लगा हमे कमेंट करे और अपने दोस्तों के साथ शेयर करें|