थायराइड के लक्षण कारण इलाज आसान उपाय और दवा से उपचार

Thyroid ke lakshan karan ilaj ki dawa aur gharelu upchar in hindi : थायराइड तितली के आकार की एक ग्रंथि होती है| यह गर्दन के अंदर और कॉलरबोन के ठीक उपर होती है| थायराइड एक तरह की एंडोक्राइन ग्रंथि है जो थय्रोस्किन हार्मोन्स बनाती है| थायराइड की समस्या बच्चों व पुरुषों से ज्यादा महिलाओं को प्रभावित करती है|

थायराइड के लक्षण कारण इलाज आसान उपाय और दवा से उपचार

 

थायराइड दो तरह का होता है हाइपोथायरायडिज्म और हाइपर थायराइड| अगर शुरुआत में ही इसे पहचान कर उपाय और दवा की जाए तो इस रोग को बढ़ने से रोका जा सकता है| कुछ लोग इस रोग के इलाज के लिए दवा का सहारा लेते है| लेकिन अंग्रेजी दवा इस रोग को जड़ से खत्म करने में कारगर नहीं है|

थायराइड का इलाज हम बिना दवा के घर पर ही आसानी से रामबाण आयुर्वेदिक इलाज और घरेलू नुस्खे अपना कर भी कर सकते है| थायराइड को कम करने के लिए होम्योपैथिक दवा और बाबा रामदेव पतंजलि की दवा से भी उपाय किये जा सकते है| आज इस लेख में हम जानेंगे symptoms, natural home remedies (gharelu nuskhe) and ayurvedic treatment for thyroid in hindi. 

महिलाओं और पुरुषों में थायराइड के  प्रमुख लक्षण – Thyroid Ke Lakshan in Hindi

  • थायराइड के रोग में शुरू के लक्षण बालों का झड़ना, नाखून रूखे व पतले होना, और गंजापन|
  • हाइपर थायराइड के लक्षण दिल की धड़कन तेज होना, अधिक पसीना आना, वजन कम होना और हाथ पैर कपकापना|
  • हाइपोथायरायडिज्म के लक्षण चेहरे और आँखों में सूजन होना, जोड़ों गर्दन व सिर में दर्द होना, कब्ज होना, त्वचा रूखी होना, मोटापा बढ़ना|
  • थायराइड के रोग में बॉडी की इम्युनिटी कमजोर हो जाती है| और रोगों से लड़ने की शक्ति कम होने लगती है|
  • अगर आप को थायराइड के लक्षण दिख रहे है तो सबसे पहले इसकी जांच करवाए| T3, T4, TSH, जांच से थायराइड का लेवल चेक होता है|
ज़रूर पढ़ें -   लंबे और घने बालों के लिए सबसे अच्छे 5 घरेलू तेल टिप्स इन हिन्दी

थायराइड रोग के कारण – Thyroid Hone ke Karan

  • अगर यह रोग घर में किसी को हो तो घर के अन्य सदस्यों को भी यह रोग होने का खतरा रहता है|
  • किसी भी दवा के साइड इफेक्ट होने की वजह से यह समस्या महिलाओं और पुरुष को हो सकती है|
  • गर्भावस्था के दौरान प्रेगनेट महिला के शरीर में हार्मोन्स में कई बदलाव होते है| जिसके कारण थायराइड की संभावना बढ़ जाती है|
  • कैप्सूल, टेबलेट या फिर प्रोटीन पाउडर के रूप में सोया उत्पाद का अधिक सेवन करना भी थायराइड होने का कारण बन सकता है|
  • भोजन में आयोडीन ज्यादा या कम इस्तेमाल करने से थायराइड की समस्या हो सकती है|
  • प्रदूषण, अधिक तनाव लेना कुछ ऐसे कारण है को इस रोग को बढ़ावा देते है|

थायराइड का इलाज के घरेलू नुस्खे उपचार और दवा

Thyroid Ka ilaj Gharelu Nuskhe Upchar Dawa in Hindi

पानी, जूस

रोजाना 4 से 5 लीटर पानी और 1 से 2 गिलास ताजे फलों का जूस सेवन करे| शरीर में जमी गंदगी बाहर निकलती है|

बादाम और अखरोट

गले की सूजन कम करने के लिए बादाम और अखरोट का सेवन करे इसमें सेलिनियम पाया जाता है और थायराइड के इलाज में बहुत फायदेमंद होता है|

पतंजलि मेडिसिन

थायराइड का इलाज करने के लिए आप दवा पतंजलि से भी ले सकते है| बाब रामदेव के द्वारा दिव्य कांचनार गुग्गुल थायराइड से राहत पाने में कारगर है| यह thyroid medicine टेबलेट के रूप में भी आती है|

अश्वगंधा चूर्ण, गाय का दूध

रोजाना रात को सोने से पहले 1 चम्मच अश्वगंधा चूर्ण को 1 गिलास गाय के हल्के गुनगुने दूध में मिला कर सेवन करे| इस रोग के घरेलू इलाज में आयुर्वेदिक दवा का काम करती है अश्वगंधा चूर्ण आप आसानी से पंसारी की दुकान या पतंजलि स्टोर से ले सकते है|

ज़रूर पढ़ें -   अस्थमा का इलाज 10 आसान उपाय और आयुर्वेदिक नुस्खे इन हिन्दी
लौकी का जूस

थायराइड जड़ से खत्म करने के लिए रोजाना सुबह खाली पेट लौकी का जूस सेवन करे| जूस पीने से आधा घंटे पहले और बाद कुछ खाए पिए नहीं|

हल्दी वाला दूध

हल्दी वाला दूध पीने से थायराइड कम करने में मदद मिलती है| हर रोज दूध में हल्दी पका कर सेवन करे और अगर आप हल्दी का दूध नहीं पीना चाहते है तो हल्दी भून कर इसका सेवन कर सकते है|

हरा धनिया

थायराइड का इलाज करने के लिए घरेलू नुस्खे में हरा धनिया बहुत कारगर है| हरे धनिया की चटनी बना कर 1 चम्मच चटनी 1 गिलास पानी में मिला कर सेवन करे| रोजाना इस घरेलू उपाय को करने से थायराइड कंट्रोल में रहता है|

तुलसी और एलोवेरा

तुलसी और एलोवेरा थायराइड के इलाज में काफी फायदेमंद होती है| 2 चम्मच तुलसी के रस में आधा चम्मच एलोवेरा का जूस मिला कर सेवन करे|

होम्योपैथिक मेडिसिन

थायराइड का इलाज करने के लिए होम्योपैथिक दवा भी बहुत असरदार है| थायराइड की होम्योपैथिक दवा का नाम Belladonna 30, Thyroidinum 30, lodum 30, Rakwage R5 है|

डॉक्टर से सलाह और दवा लेने का सही तरीका

थायराइड होम्योपैथिक दवा सेवन करने से पहले किसी Homeopathic डॉक्टर से मिलकर सलाह लें और अपनी परेशानी बताने के बाद दवा लेने की सही मात्रा और सही तरीका जरूर जाने|

आयोडीन

जो लोग थायराइड के रोग से ग्रस्त है उन लोगों को आयोडीन सही मात्रा में लेने चाहिए| और जितना हो सही तरीके से आयोडीन का सेवन करे जैसे की टमाटर, लहसुन और प्याज|

विटामिन ए

इस समस्या से पीड़ित लोग महिला और पुरुष को अपने आहार में Vitamin A ज्यादा लेना चाहिए| हरी सब्जियों और गाजर में विटामिन ए अधिक पाया जाता है| इससे इस रोग को ठीक करने में फाइदा मिलता है|

ज़रूर पढ़ें -   आंखों के नीचे डार्क सर्कल्स हटाने के 5 आसान उपाय और नुस्खे

थायराइड ट्रीटमेंट टिप्स इन हिन्दी – Thyroid Home Treatment in Hindi

  • थायराइड के रोग से ग्रस्त व्यक्ति को क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए इस बात का ध्यान रखना बहुत जरूरी है| सही तरीके से इलाज और परहेज करके इस रोग को जड़ से खत्म कर सकते है|
  • एक्सरसाइज और योगा करने भी आप हाइपो थायराइड और हाइपर थायराइड कर सकते है सकते है थायरोइड ठीक करने के लिए योगा में उज्जयी प्राणायाम, विपरीतकरणी और म्त्स्यासन योगा करने से भी लाभ होता है|
  • ज्यादातर महिलाओं में थायराइड की समस्या होती है और गर्भावस्था के दौरान कुछ महिलओं को यह समस्या हो जाती है इसलिए थायराइड के शुरुआत के लक्षण दिखते ही जल्द इलाज शुरू कर देना चाहिए|
  • अधिक तनाव लेने से बचे तनाव लेने से थायराइड की ग्रंथि पर बुरा असर पड़ता है|
  • आप अपने आहार में सफ़ेद नमक की बजाय काला नमक या सेंधा का सेवन करे|
  • तंबाकू, शराब और धूम्रपान सही तरह के नशे से परहेज करे|

हेल्लों दोस्तों थायराइड के लक्षण कारण इलाज आसान उपाय और दवा से उपचार का यह लेख आप को कैसा लगा हमे कमेंट करे और अपने दोस्तों के साथ शेयर करें|

Leave a Comment