बिना ऑपरेशन गले के टॉन्सिल्स का इलाज के 10 आसान घरेलू नुस्खे

Tonsils ka ilaj gharelu nuskhe in hindi : टॉन्सिल एक बहुत आम समस्या है| मौसम के बदलाव के कारण यह समस्या किसी ना किसी को होती रहती है टॉन्सिल (Tonsils) गले से जुड़ी एक बीमारी है| इस बीमारी में गले में सूजन आने के साथ-साथ तेज दर्द होने लगता है| टॉन्सिल होने पर गले में दोनों ओर सूजन आ जाती है और मुंह में दर्द भी होता है इस समस्या के चलते व्यक्ति को बुखार चढ़ता-उतरता रहता है इस बीमारी में गले के अंदर दोनों तरफ मांस में गांठ बन जाती है|

जिसके कारण गले में सूजन, तेज दर्द और बोलने में परेशानी हो जाती है और खाने पीने में भी दिक्कत का सामना करना पड़ता है यहां तक की पानी और थूक निगलने में दर्द होता है इसके अलावा इससे खाने का स्वाद भी पता नहीं चलता| अगर आप लोग इस बीमारी से ग्रस्त है और अगर आपकी टॉन्सिल्स की समस्या जाये और अगर हम डॉक्टर से सलाह करे तो हमे ऑपरेशन की सलाह दी जाती है, लेकिन टॉन्सिल्स का इलाज घरेलू नुस्खे और देसी आयुर्वेदिक तरीकों से भी कर सकते है| आइये जानते है कैसे इस बीमारी से बच सकते है और कौन से घरेलू इलाज टॉन्सिल की बीमारी को दूर करने में मदद करेंगे, natural ayurvedic home remedies tips for tonsils treatment in hindi. 

टॉन्सिल्स किन कारणों से होता है : Causes of Tonsils in Hindi

टॉन्सिल्स के मुख्य कारणों में इन्फेक्शन सबसे बड़ा कारण है देखा जाए तो टॉन्सिल्स इतनी खतरनाक बीमारी तो नहीं है लेकिन अगर इसके इलाज में लापरवाही कर दी जाए तो ये समस्या आपको बहुत परेशान कर सकती है समय के रहते अगर टॉन्सिल्स का इलाज कर लिए जाए तो आप इससे राहत पा सकते है, नहीं तो आप इस परेशानी से लंबे समय तक परेशान हो सकते है टॉन्सिल की बीमारी के कुछ कारण इस तरह है :-

  • ठंडी चीजे कोल्ड ड्रिंक्स और आइस क्रीम के ज्यादा सेवन से
  • पाचन तंत्र कमजोर होने के कारण
  • अधिक मसालेदार और तीखी चीजें सेवन करने से
  • जुखाम की वजन से
  • गर्म और ठंडी चीजें एक साथ सेवन करने से
  • पेट की परेशानी जैसे कब्ज या गैस
ज़रूर पढ़ें -   हाई और लो ब्लड प्रेशर के कारण और लक्षण - Blood Pressure in Hindi

Tonsils की परेशानी कभी भी हो सकती खास तौर से जब मौसम बदलता है तो इसका होने का खतरा ज्यादा रहता है|

टोन्सिल के लक्षण क्या है : Tonsils Symptoms

हम आपको बताते है की टॉन्सिल्स की बीमारी के लक्षणों की पहचान कैसे करते है | इस समस्या के लक्षण इस प्रकार है|

  • दर्द की वजह से तेज बुखार होने लगता है और शरीर में कमजोरी होने लगती है|
  • गले में खराश होने लगती है|
  • कान और गले के नीचे दर्द होने लगता है|
  • गले में सूजन होने लगती है|

एलोपेथी से टॉन्सिल्स का उपाय

  • अगर आपको टॉन्सिल्स की समस्या वायरल इन्फेक्शन की वजह से हुई है और आप बुखार से पीड़ित है तो ज्यादातर डॉक्टर आपको क्रोसिन या पेरसिटामोल नाम की दवा देते है|
  • गले में टॉन्सिल्स की परेशानी के लिए गर्म पानी में थोड़ा सा नमक डालकर गरारे करने की सलाह भी देते है इससे गले के दर्द की समस्या से राहत मिलती है और आप पहले से ज्यादा अच्छा महसूस करते है|
  • अगर आपको टॉन्सिल्स की परेशानी बेक्टिरियल इन्फेक्शन की वजन से हुई है तो आपको नमक के गरारे करने की सलाह देते है|
  • पेरसिटामोल दवा के साथ ही साथ आपको कुछ एंटिबेटिक दवा भी देते है कुछ भी एलोपेथिक इलाज करने से पहले डॉक्टर से मिले और सलाह जरूर ले|

टॉन्सिल्स का इलाज के घरेलू उपाय और देसी नुस्खे

Tonsils ka Gharelu ilaj in Hindi

  1. Tonsils की परेशानी दूर करने के लिए अंजीर को पानी में उबाल कर पीस लें फिर इसके पेस्ट बनाकर गले पर मालिश करें|
  2. टॉन्सिल्स की बीमारी में गले  की सूजन और दर्द के लिए हल्दी बहुत फायदेमंद है एक गिलास गर्म दूध में एक चम्मच हल्दी पाउडर और आधा चम्मच गोकली का पाउडर मिलाकर रात को सोने से पहले सेवन करे|
  3. एक कपड़ा लें और उस कपड़े की पोटली बनाये फिर इस पोटली को प्रेस या तवे पर हल्का गर्म करे फिर इसके बाद उस पकड़े से गले पर सेंक करे| ऐसा करने से गले के दर्द की परेशानी जाती रहती है|
  4. एक गिलास गर्म पानी में आधा नींबू और दो चम्मच शहद मिलाकर सेवन करे इससे टॉन्सिल्स की समस्या में राहत मिलती है इसका सेवन दिन में दो से तीन बार करे| इससे गले में सूजन और दर्द से आराम मिलता है|
  5. टॉन्सिल की बीमारी से जल्दी छुटकारा पाने के लिए एक गिलास गर्म पानी में सौंठ को अच्छी तरह मिलाकर सेवन करें|
  6. लहसुन को गर्म पानी में अच्छे से पीस कर मिला लें| इस पानी से कुछ दिन गरेगे करे, इस उपाय को करने से टॉन्सिल्स की परेशानी से राहत मिलती है|
  7. टॉन्सिल्स की बीमारी में देसी घी से गले की मालिश करने से बहुत फायदा मिलता है|
  8. गले में दर्द और टॉन्सिल्स से राहत पाने के लिए पानी में चाय की पत्ती को अच्छे से उबाल ले फिर इस पानी से गरारे करे ऐसा करने से गले के दर्द से राहत मिलती है और गले के टॉन्सिल्स की समस्या से राहत पाने के लिए गर्म पानी में नमक और फिटकरी के मिश्रण को मिलाकर गरारे करे|
  9. गन्ने का रस टॉन्सिल्स में बहुत फायदेमंद है अगर इसके साथ थोड़ा हड़क का चूर्ण मिलाकर सेवन करे तो टॉन्सिल्स में बहुत राहत मिलती है|
  10.  सिंघाड़े से भी आप अपना टॉन्सिल्स का इलाज कर सकते है इस बीमारी में आयोडीन की कमी हो जाती है और सिंघाड़े में आयोडीन की मात्रा भरपूर होती है| इस घरेलू नुस्खे से टॉन्सिल्स की समस्या में बहुत फायदा मिलता है|
ज़रूर पढ़ें -   चेहरे से तिल और मस्से हटाने के 10 आसान तरीके और घरेलू उपाय

होमियोपैथी दवाओं से टॉन्सिल्स का उपचार के टिप्स इन हिंदी

  • टॉन्सिल्स की बीमारी की एक वजह है रोग प्रतिरोधक क्षमता (इम्यूनिटी) का कमजोर होना भी है|
  • होम्योपैथिक दवा रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ती है जिससे टॉन्सिल्स के रोग से हमारा बचाव होता है|
  • Homeopathic दवा से टॉन्सिल्स का इलाज करने में समय तो लगता है लेकिन इसके साथ साथ बीमारी को जड़ से खत्म करने का भी काम किया जाता है| जिसमें इसके बार-बार होने और हर छोटे बड़े कारणों पर ध्यान दिया जाता है|
  • होम्योपैथिक इलाज में टॉन्सिल्स को पूरी और सही तरह ठीक होने में चार से पांच महीने भी लग सकते है|
  • टॉन्सिल्स का इलाज करने के लिए होम्योपैथिक दवा में ज्यादातर बरयता कार्ब 30, बेलाडोना 30, और कैलकेरिया कार्ब 30 आदि दवा दी जाती है| अगर आप इन दवा का सेवन करे तो इन दवा का सेवन करने से पहले होम्योपैथिक डॉक्टर से मिले और सलाह जरूर ले|

टॉन्सिल्स का इलाज के आयुर्वेदिक नुस्खे

अगर आप अपना टॉन्सिल्स का इलाज आयुर्वेदिक तरीके से करना चाहते है तो आजकल बाजार में बहुत सी आयुर्वेदिक औषधियां और दवाये बाजार में मिलती है| ये औषधियां आप बाबा रामदेव के पतंजलि स्टोर्स या पंसारी की दुकान से आप आसानी से ले सकते है| त्रिभुवन कीर्ति रस, कलपरस, महालक्ष्मी विलास रस, आरोगयावर्धीनी आदि यह आयुर्वेदिक दवा टॉन्सिल्स के इलाज में फायदेमंद होती है| इस आयुर्वेदिक दवा को इस्तेमाल करने से पहले किसी आयुर्वेदिक डॉक्टर या वैद से मिले और सलाह ले|

टॉन्सिल्स में क्या खाने से परहेज करे

  • मलाई, दूध और दही का इस्तेमाल ना करे|
  • तला हुआ खाना और चटपटे मसालेदार खाना खाने से बचे|
  • कोल्ड ड्रिंक के सेवन से बचे|
  • ठंडी चीजें खाने से दूर रहे|
  • सर्दी और जुकाम से पीड़ित व्यक्ति से दूरी बनाये रखे|
  • शराब और नशीली चीजों का सेवन ना करें|
  • सिगरेट भी पीने से बचे इससे इन्फेक्शन होने का खतरा रहता है|
  • भोजन करते वख्त हाथों की सफाई का जरूर ध्यान रखे और भोजन करने के बाद भी हाथों को अच्छे से धोये|
ज़रूर पढ़ें -   जल्दी गोरा होने के 10 आसान उपाय और घरेलू नुस्खे

हेल्लों दोस्तों बिना ऑपरेशन गले के टॉन्सिल्स का इलाज के 10 आसान घरेलू नुस्खे का यह लेख आप को कैसा लगा हमें कमेंट करे और अपने दोस्तों के साथ शेयर करें|

Leave a Comment